विजयी चुनावी वास्तु  ( कैसे जीतें चुनाव वास्तु की सहायता से )


प्रस्तावना

मित्रों हम एक लोकतान्त्रिक गणराज्य में जी रहें है जहाँ हमेशा कहीं न कहीं चुनाव होते रहते हैं। मैंने अपने वास्तु सलाहकार के रूप में बिताए वर्षों में अनेकानेक नेताओं के घर और ऑफिस देखे , उनके व्यक्तित्व को भी करीब से देखा, उनकी इच्छाओं आकांशाओं को भी समझने का प्रयास किया। इस सब ने मुझे पुरे जीवन के अनुभव को इस पुस्तक के रूप में लिखने की प्रेरणा दी। मैंने पाया था ककि हर राजनेता के जीवन की धुरी चुनाव है चुनाव वो वैतरणी है जिसके उस पार सर्व सुविधा युक्त आलीशान जीवन है समाज को अपने अनुसार चलने कि शक्ति है, पैसा है, प्रसिद्धि है,यानि सब कुछ है और इस पर एक मायूसी भरा जीवन और ५ वर्ष का इंतजार है।

इस पुस्तक में मैंने न केवल वास्तु शास्त्र के सिद्धांतो में चुनाव जितने के मूलमंत्र की खोज निकलने का प्रयास किया है वरन हमारे देश में प्राचीन कल से प्रचलित अनेकानेक विद्याओ के अतिरिक्त , व्यवहार विज्ञान (Behaviour Science ) Body language तथा संधिवार्ता कौशल (Negotiation Skill ) अदि के कुछ सिद्धांतो को भी इसमें शामिल किया है।

पूजा पाठ की परम्पराओं, टोने टोटके आदि, तथा फेंग शुई के भी कुछ विश्वासों को भी अनुलग्न के रूप में शामिल किया है ताकि यह पुस्तक हर राजनितिक कार्यकर्ता के लिए एक मार्ग दर्शिका (Guide ) का कार्य करे। यहाँ यह स्पष्ट कर दूँ कि मैं स्वयं इन सारी विद्याओं का न तो विशेषज्ञ हूँ न ही उनका पूरी तरह समर्थन करता हूँ किन्तु कहा गया है कि युद्ध और प्यार में सब जायज है इसीलिए मैंने 'चुनाव ' को एक युद्ध मान कर इन धूसर क्षेत्र ( Gray Areas )की बातों को भी पुस्तक में स्थान दिया है।

मैं अपने वास्तुशास्त्री मित्रों से इस बात के लिए क्षमा चाहता हूँ कि मैंने इसमें वास्तु शास्त्र से इतर विषयों को भी शामिल किया। मित्रो मेरी पुस्तक कोई आदर्श या चरित्रवान नेता बनाने के लिए नहीं बल्कि एक सामान्य नेता जो ग्राम पंचायत से लेकर लोकसभा तक चुनाव जितने में सहायता प्रदान करे, इस ध्येय को लेकर लिखी गई है। साथ ही मै ये आशा करता हूँ कि यह पुस्तक उन समाया व्यक्तिओ के लिए भी, जो चुनाव की प्रक्रिया को जानना चाहते है या अपने घर एवं कार्यालय के वास्तु की व्यवस्था को कुछ हद तक अपने आप ठीक करने की इच्छा रखते हैं उपयोगी सिद्ध होगी।

इस पुस्तक में मैंने यथासंभव बहुत सरल भाषा का प्रयोग किया है यहां तक कि कहीं-कहीं रोजमर्रा की जिंदगी में बोले जाने वाले अंग्रेजी के शब्द भी इसमें आपको मिल जाएंगे।

आशा करता हूं मैं यहां पुस्तक सभी के लिए विशेषकर राजनीतिक क्षेत्र के सभी कार्यकर्ताओं एवं नेताओं के लिए अत्यंत उपयोगी सिद्ध होगी।

अनिल कुमार वर्मा

मोबाईल - 9425028600, 8770549057
ईमेल - vermanilg@gmail.com
ईमेल - vermanil@yahoo.com
Website - www.askvastu.com
Bhilai - (12/10/2018)

अनुक्रमणिका


  • 1)     उम्मीदवार और उसकी पार्टी का टिकट
  • 2)     उम्मीदवार के घर का वास्तु
  • 3)     पार्टी व चुनाव कार्यालय का वास्तु
  • 4)     नामांकन पत्र जमा करते समय वास्तु का उपयोग
  • 5)     लीफलेट व अन्य प्रचार सामग्री के डिजाइन में वास्तु
  • 6)     होर्डिंग्स के डिजाइन में वास्तु
  • 7)     उम्मीदवार की वेबसाइट के डिजाइन में वास्तु
  • 8)     चुनाव की वित्त व्यवस्था और प्रबंधन में वास्तु
  • 9)     चुनावी जनसभा में वास्तु
  • 10)     नुक्कड़ सभा और वास्तु
  • 11)     राजनितिक संधिवार्ता (NEGOTIATION ) में वास्तु का उपयोग
  • 12)     प्रचार वाहन और वास्तु
  • 13)     घर घर जा कर किया जाने वका चुनाव प्रचार और वास्तु
  • 14)     पन्ना प्रमुख तथा पोलिंग एजेंट
  • 15)     मतदान केंद्र (पोलिंग बूथ ) और वास्तु
  • 16)     मतगणना कक्ष और वास्तु
  • 17)     जिओपैथिक स्ट्रेस और चुनाव पर इसके प्रभाव
  • 18)     फेंगशुई और चुनाव
  • 19)     सोशल मीडिया और चुनाव
  • 20)     उपसंहार
  • 22)     अनुलग्न २ विशेष पूजा-अर्चना और चुनाव
  • 23)     अनुलग्न ३ यादें